9th WORLD CUP 2007: जब लगातार तीसरी बार आस्ट्रेलिया ने जीता वर्ल्ड कप

9th WORLD CUP 2007: 2007 क्रिकेट वर्ल्ड कप टूर्नामेंट का नौवां संस्करण था, जो वेस्टइंडीज में 13 मार्च से 28 अप्रैल खेला गया, इस वर्ल्ड कप में 16 टीमों ने हिस्सा लिया, जिनमें ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका, वेस्टइंडीज, बांग्लादेश, भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका, जिंबाब्वे, बरमूडा, केनिया, नीदरलैंड, कनाडा, आयरलैंड तथा स्कॉटलैंड शामिल थी, इन टीमों को चार चार के चार ग्रुप में बांटा गया और कुल 51 मैच खेले गए|

चारों समूह से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली दो दो टीमों को सुपर एट में प्रवेश मिला, पहले ग्रुप से ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका दूसरे ग्रुप से श्रीलंका, बांग्लादेश तीसरे ग्रुप से न्यूजीलैंड, इंग्लैंड तथा चौथे ग्रुप से वेस्टइंडीज तथा आयरलैंड ने सुपर एट में प्रवेश किया, सुपर एट में हुए मुकाबलों के बाद ऑस्ट्रेलिया, श्रीलंका, न्यूजीलैंड तथा दक्षिण अफ्रीका ने सेमीफाइनल में जगह बनाई। 2007 क्रिकेट वर्ल्ड कप

श्रीलंका ऐसे पहुंची फ़ाइनल में

पहला सेमीफाइनल मुकाबला श्रीलंका तथा न्यूजीलैंड के बीच खेला गया, जिसमे पहले खेलते हुए श्रीलंका ने निर्धारित 50 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 289 रन बनाए, जवाब में खेलने उतरी न्यूजीलैंड की टीम 41.4 ओवर में 208 रन बनाकर आल आउट हो गई, इस तरह श्रीलंका ने 81 रन से जीत जीत दर्ज की और फाइनल में प्रवेश कर लिया|

अफ्रीका को हराकर फ़ाइनल में पहुंचा आस्ट्रेलिया

दूसरे सेमीफाइनल में दक्षिण अफ्रीका तथा आस्ट्रेलिया का मुकाबला हुआ, जिसमें पहले खेलते हुए दक्षिण अफ्रीका की टीम 43.5 ओवर में 149 रन पर ऑल आउट हो गई, जवाब में खेलने उतरी आस्ट्रेलिया की टीम ने एक 30.3 ओवर में 3 विकेट के नुकसान पर 153 रन बनाकर मैच जीत लिया और फाइनल में प्रवेश किया।

बारिश की वजह से मैच 38 ओवर का

2007 वर्ल्ड कप का फाइनल 28 अप्रैल 2007 को ब्रिजटाउन में खेला गया, इस फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका आमने सामने थी, इससे पहले दोनों टीमें 1996 के वर्ल्ड कप में फाइनल खेल चुकी थी, जिसमें श्रीलंका ने ऑस्ट्रेलिया को हराकर वर्ल्ड कप पर कब्जा जमाया था, एक बार फिर 11 साल बाद दोनों टीमें आमने-सामने थी मुकाबला शुरू हुआ, टॉस ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग ने जीता और बल्लेबाजी करने का फैसला किया, हालांकि बारिश की वजह से खेल देरी से शुरू हुआ और मैच 38 ओवर का कर दिया गया|

एडम गिलक्रिस्ट ने 149 रनों की पारी खेली

ऑस्ट्रेलियाई विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट ने 149 रनों की पारी खेली,

जिसकी मदद से आस्ट्रेलिया ने 38 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 281 रन बनाए,

282 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए श्रीलंका की शुरुआत तो अच्छी रही,

कुमार संगकारा और सनत जयसूर्या ने दूसरे विकेट के लिए 116 रन जोड़ लिए,

लेकिन इस जोड़ी के आउट होने के बाद श्रीलंका की जीत की उम्मीद धीरे-धीरे कम होने लगी,

इसके बाद फिर से बारिश शुरू हो गई और श्रीलंका को 36 ओवर खेलने के लिए दिए गए,

जिससे लक्ष्य भी घटकर 269 रन रह गया, 33 ओवर पूरे होने के बाद एंपायरों ने कम रोशनी के कारण मैच को रोक दिया|

श्रीलंका को 18 गेंदों पर 61 रनों का लक्ष्य मिला

जब खेल दोबारा शुरू हुआ तो श्रीलंका को 18 गेंदों पर 61 रनों का लक्ष्य मिला,

इस तरह आखिरी 3 ओवर लगभग अंधेरे में खेले गए,

श्रीलंका की टीम सिर्फ 9 रन जोड़ सकी और ऑस्ट्रेलिया की टीम ने 53 रन से मैच जीत लिया,

ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका को हराकर लगातार तीसरा वर्ल्ड कप अपने नाम किया

और 4 बार वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम बन गई,

ऑस्ट्रेलिया ने वर्ल्ड कप में लगातार 29 मैच जीतने का रिकॉर्ड भी बनाया,

ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा को प्लेयर ऑफ द सीरीज घोषित किया गया|

खराब रहा भारतीय टीम का प्रदर्शन

अब बात करते हैं भारत के प्रदर्शन की,

भारतीय टीम का प्रदर्शन इस वर्ल्ड कप में काफी खराब रहा

और वह बांग्लादेश जैसी कमजोर टीम से भी मैच हारकर ग्रुप एट में भी जगह नहीं बना पाया

हालांकि बरमूडा के खिलाफ भारत ने 50 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 413 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया था|

8th CRICKET WORLD CUP: आस्ट्रेलिया ने जीता तीसरी बार ख़िताब, भारत फ़ाइनल में हारा

Leave a Comment

Your email address will not be published.