RATION CARD NEWS: अब पात्र लोगो को ही मिलेगा राशन योजना का लाभ, जानें पूरी डिटेल्स

RATION CARD NEWS: राशन योजना का लाभ यूपी सरकार राशन कार्ड धारकों का सर्वे करा रही कि वह कितना राशन ले रहे हैं, वह इसके पात्र हैं या नहीं, अभी कुछ समय से कार्ड सरेंडर करने तथा वसूली करने जैसी खबरे आ रही थी हलाकि सरकार द्वारा यह स्पष्ट कर दिया गया है कि किसी से भी वसूली नहीं की जाएगी, केवल सरकार द्वारा सर्वे कराया जा रहा है कि कोई अपात्र तो राशन नहीं ले रहा है, यदि कोई अपात्र राशन ले रहा है तो उसका नाम सूची से अलग कर दिया जायेगा|

हालांकि सरकार की तरफ से अभी कोई ऐसा आदेश नहीं दिया गया है, लेकिन फिर भी आपको राशन कार्ड से जुड़े नियमों के बारे में पूरी जानकारी होना जरूरी है। अगर आपने गलत तरीके से राशन कार्ड बनवाया है और उसकी सेवाएं ले रहे है तो आपकी शिकायत कोई भी व्यक्ति कर सकता है। शिकायत के बाद जांच में सही पाए जाने पर आपके ऊपर कानूनी कार्रवाई भी हो सकती है।

ये है इस योजना में शामिल होने की पात्रता

यदि आप राशन कार्ड धारक है और मुफ्त राशन योजना का लाभ ले रहें हैं तो आप इस योजना की पात्रता के बारे में जरूर जान लें-

यदि आपके पास 100 गज का प्लाट, चार पहिया वाहन, शास्त्र लाइसेंस, गॉव में दो लाख और शहर में तीन लाख रूपये से ज्यादा आय है तो आप इस पात्रता सूची में नहीं आते हैं| यदि आपके पास यह सारी सुविधाएं हैं तो आप अपना राशन कार्ड सरेंडर कर दें| वहीं अगर उत्तर प्रदेश की बात की जाए तो यहां भी ऑनलाइन राशन कार्ड के लिए अप्लाई किया जा सकता है, उत्तर प्रदेश के सभी निवासियों के पास राशन कार्ड होना चाहिए जो कि खाद्य और नागरिक आपूर्ति विभाग के जरिए वितरित किया जाता है, राशन कार्ड जारी करने का उद्देश्य लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली (टीपीडीएस) को लागू करना है जो अपने नागरिकों को अत्यधिक रियायती कीमतों पर चावल, गेहूं, चीनी, मिट्टी के तेल, उर्वरक, एलपीजी आदि जैसी आवश्यक वस्तुएं प्रदान करता है|

पात्र लोगो तक योजना का लाभ पहुँचाना चाहती है सरकार

सरकार की तरफ से राशन कार्डों को निरस्त करने का कार्यक्रम शुरू कर द‍िया गया है, यूपी सरकार ने इसके लिए आदेश भी जारी कर दिया है, आदेश के अनुसार अपात्र लोगों का राशन कार्ड की ल‍िस्‍ट से नाम काटा जाएगा और केवल पात्र लोगो को ही मुफ्त राशन का लाभ मिल सकेगा, आपको बता दें कि प्रदेश के अलग-अलग जिलों में इसकी शुरुआत भी हो गई है, यूपी में राशन कार्ड बनाने का सरकार का लक्ष्य 2011 की जनगणना के अनुसार पूरा हो चुका है, ऐसे में नया राशन कार्ड बनाया नहीं जा सकता, लेकिन जिन लोगों में इसकी पात्रता नहीं है, उसका निरस्तीकरण कर पात्रों को मौका दिया जा सकता है|

‘परिवार कल्याण योजना’ के क्रियान्वयन की तैयारी तेज

यूपी सरकार प्रत्येक परिवार को रोजगार मुहैया कराने के अलावा विभिन्न योजनाओं का लाभ देना चाहती है, इसे लोगों तक पहुंचाने के लिए शुरू की जा रही परिवार कल्याण योजना के लिए प्रत्येक परिवार की आईडी बनाने का फैसला किया गया है, सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए ‘परिवार कल्याण योजना’ के क्रियान्वयन की तैयारी तेज कर दी गई है, इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक परिवार का पहचान पत्र बनाया जाएगा, इसके तहत प्रदेश में जिन परिवारों के पास राशन कार्ड उपलब्ध है, उनके राशन कार्ड को ही परिवार आईडी मान लिया जाएगा|

ई-श्रम कार्ड से राशन कार्ड बनाने की प्रक्रिया

सरकार द्वारा अब एक बार फिर से राशन कार्ड बनाने के नियमों में बदलाव किए गए हैं,

जिसमें इसे श्रम कार्ड से जोड़ना जरूरी कर दिया गया है।

यदि आप भी राशन कार्ड बनाना चाहते हैं

तो ई-श्रम कार्ड के जरिए ऑनलाइन राशन कार्ड आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में जान लेना बहुत आवश्यक है।

इस तरह करें आवेदन

ई-श्रम कार्ड के माध्यम से राशन कार्ड प्राप्त करने के लिए सबसे पहले आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।

इसके बाद सबसे नीचे देश के सभी राज्यों की सूची दिखाई देगी।

इन सभी राज्यों की सूची में से अपने राज्य के लिंक पर क्लिक करें।

जिस पर क्लिक करते ही आपके राज्य की योजना से संबंधित विभाग की वेबसाइट खुल जाएगी।

इसके बाद आपको सभी प्रकार की ऑनलाइन सर्विस का एक समय में ही

आपको ही ई-श्रम कार्ड में राशन कार्ड का आवेदन के लिए ऑप्शन दिखाई देगा, उस पर क्लिक करें।

फिर प्रेस करने के बाद आपकी फोन की स्क्रीन में एक आवेदन फॉर्म के रूप में एक पेज खुलेगा,

जिसमें आपको सावधानीपूर्वक मांगे गए सभी डिटेल सही-सही भरने होंगे।

इस तरह आपका आवेदन हो जायेगा, जिसके बाद विभाग जांच करेगा,

जांच सही पाए जाने पर आपका राशन कार्ड बनकर आपके पास पहुँच जायेगा|

यदि आपको हमारे लेख पसंद आ रहे है तो आप हमारी वेबसाइट reportdelhi.com पर जाकर सभी लेख पढ़ सकते हैं|

RATION CARD NEWS: कहीं रद्द न हो जाये आपका राशन कार्ड, जान लें ये नियम

 

 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *