Russia Ukraine War: कुछ ही घंटों में टूटा संघर्षविराम, यूक्रेन पर रूस की ‘आक्रामक कार्रवाई’ फिर से शुरू

मॉस्को. रूस के रक्षा मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि उसने यूक्रेन के दो शहरों में घिरे नागरिकों को वहां से सुरक्षित निकलने के लिए अस्थायी तौर पर संघर्ष विराम की घोषणा के बाद यूक्रेन में फिर से ‘आक्रामक कार्रवाई’ शुरू कर दी है. रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता इगोर कोनाशेनकोव ने एक वीडियो ब्रीफिंग में कहा, “यूक्रेनी पक्ष की राष्ट्रवादियों को प्रभावित करने या संघर्ष विराम का विस्तार करने की अनिच्छा के कारण मास्को के समयानुसार 18:00 बजे (1500 GMT) रूस द्वारा आक्रामक कार्रवाई फिर से शुरू कर दी गई है.”

कोनाशेनकोव ने कहा कि “एक भी नागरिक” मानवीय गलियारों से बाहर निकलने में सक्षम नहीं था. उन्होंने कहा,  “इन शहरों की आबादी को राष्ट्रवादियों द्वारा मानव ढाल के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है.” उन्होंने कहा कि ‘राष्ट्रवादी बटालियनों’ ने संघर्ष विराम का इस्तेमाल ‘अपनी स्थिति को फिर से संगठित करने और मजबूत करने’ के लिए किया.

प्रतिबंधों को लेकर क्रेमलिन ने कहा- डाकुओं की तरह काम कर रहा पश्चिम, अलग-थलग पड़ने के लिए रूस बहुत बड़ा है

शनिवार को ही रूसी रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि वह दक्षिण पूर्व में स्थित रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण बंदरगाह मारियूपोल और पूर्व में स्थित वोलनोवाखा शहर में लोगों को निकालने के लिए रास्ता देने को सहमत है. इसके बाद से यूक्रेन के इन दो शहरों में अस्थायी तौर पर संघर्ष विराम का ऐलान हो गया था. हालांकि, इस बयान में यह स्पष्ट नहीं था कि वे मार्ग कब तक खुले रहेंगे.

संघर्षविराम तोड़ने के लिए यूक्रेन ने रूस पर साधा निशाना
इस बीच, यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की के कार्यालय के उप प्रमुख किरिलो तिमोशेंको ने कहा, ‘रूस संघर्ष विराम नहीं कर रहा है और मारियूपोल तथा आसपास के इलाकों में गोलाबारी जारी है.’ उन्होंने कहा, ‘संघर्ष विराम और सुरक्षित मानवीय गलियारा स्थापित करने के लिए रूस महासंघ से बातचीत जारी है.’ उप प्रधानमंत्री इरिना वेरेशचुक ने संवादाताओं से कहा, ‘हम रूस से गोलाबारी बंद करने की अपील करते हैं’. उन्होंने कहा कि रूस ने वोलनोवाखा में भी संघर्ष विराम की घोषणा के विपरीत कार्रवाई की.

मारियूपोल के महापौर वादिम बॉयचेंको ने यूक्रेन के टीवी चैनल पर कहा कि हजारों लोग शहर से सुरक्षित बाहर निकलने के लिए एकत्र हुए हैं और गोलाबारी शुरू होते ही बसें उन्हें लेकर रवाना हुईं. पिछले कई दिनों से मारियूपोल में रूसी सेनाएं गोलाबारी कर रही हैं और बर्फीली सर्दी में वहां फंसे सैकड़ों लोगों के लिए बिजली, फोन, भोजन और पानी का संकट पैदा हो गया है.

Tags: Russia, Ukraine, Vladimir Putin

Leave a Comment

Your email address will not be published.