IND vs SL 1st Test: रोहित शर्मा ने ली है ‘बेंच स्ट्रेंथ’ तैयार करने की जिम्मेदारी, बोले- मैच जीतने से ज्यादा जरूरी

मोहाली. भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) मानते हैं कि उनके लिए मैच जीतने से बड़ी चुनौती ‘बेंच स्ट्रेंथ’ तैयार करना है. रोहित ने श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के पहले मैच (IND vs SL 1st Test) में जीत दर्ज करने के बाद कहा कि उन्होंने यह जिम्मेदारी अपने कंधों पर ली है ताकि जब वह भविष्य में भारतीय क्रिकेट को छोड़कर जायें तो यह ‘सुरक्षित हाथों’ में हो. रोहित ने टेस्ट कप्तान के तौर पर अपनी यात्रा श्रीलंका पर पहले टेस्ट में पारी और 222 रन की शानदार जीत से शुरू की.

अनुभवी ओपनर और कप्तान रोहित शर्मा ने तीसरे दिन ही टेस्ट मैच खत्म होने के बाद कहा, ‘अगर आपको ‘बेंच स्ट्रेंथ’ बनानी है तो आपको अभी से सोचना शुरू करना होगा, तभी भारतीय क्रिकेट सुरक्षित हाथों में होगा. यह मेरी चुनौतियों में से एक है और मेरी जिम्मेदारियों में से एक है. मैंने यह जिम्मेदारी अपने कंधों पर ली है कि यह बेंच स्ट्रेंथ तैयार करूं और काफी सारी चीजों को ध्यान में रखूं.’

इसे भी देखें, IPL-2022: मुंबई इंडियंस का पहला मैच दिल्ली से, जानिए- रोहित शर्मा की टीम का पूरा शेड्यूल

टीम अब चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे से आगे बढ़ रही है, इसलिए युवा खिलाड़ियों को खुद पर भरोसा दिलाना जरूरी है. उन्होंने कहा, ‘यह मेरे लिए मैच जीतने से कहीं ज्यादा बड़ी चुनौती होगी. मेरे लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि मैं इन खिलाड़ियों को किस तरह से खिलाता हूं जो बाहर बैठे हैं और मैं उन्हें आत्मविश्वास कैसे दिला सकता हूं.’

रोहित ने कहा, ‘जब उन्हें मौका मिले तो उन्हें बहुत स्पष्ट होना चाहिए कि उन्हें क्या करना और हासिल करना है. इससे हमारे प्रदर्शन पर असर पड़ेगा, भले ही हम जीते या फिर हारें.’ कप्तान ने यह भी कहा कि कोई भी खिलाड़ियों से आते ही मैच जिताने की उम्मीद नहीं कर सकता. उन्होंने कहा, ‘आप यह नहीं कह सकते कि आपको मैच जिताने होंगे. मैच जीतने के लिए आपको कई चीजें करने की जरूरत है.’

इसे भी देखें, रोहित शर्मा का टेस्ट कप्तानी में भी विजयी आगाज, मोहाली टेस्ट तीसरे दिन ही जीता भारत

उन्होंने आगे कहा, ‘बेंच स्ट्रेंथ तैयार करने के लिए खिलाड़ियों को स्पष्टता देने की जरूरत है, उनके लिए अच्छा माहौल बनाने की जरूरत है ताकि खिलाड़ी खुशनुमा माहौल में रहकर मैदान में जाएं और अपना काम करें. उन्हें ज्यादा दबाव महसूस नहीं करना चाहिए. निश्चित रूप से जब आप अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेल रहे होते हैं तो दबाव होता है. लेकिन बाहरी दबाव नहीं होना चाहिए, आंतरिक दबाव ठीक है.’

Tags: Cricket news, IND vs SL, India Vs Sri lanka, Rohit sharma

Leave a Comment

Your email address will not be published.