World Athletics Bans Russian Athletes And Officials From All Competitions

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) के यूक्रेन पर हमला करने के फैसले का परिणाम अब उनके देश के खिलाड़ी भुगत रहे हैं. एक के बाद एक कई अंतर्राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में रूस का बायकॉट हो रहा है. ताजा मामला वर्ल्ड एथेलेटिक्स (World Athletics) का है. वर्ल्ड एथेलेटिक्स के अंतर्गत आने वाले सभी टूर्नामेंट में अब रूस के खिलाड़ी (Russian Athletes) हिस्सा नहीं ले पाएंगे. वर्ल्ड एथलेटिक्स ने एक बयान जारी कर कहा है, ‘रूस के सभी एथलीट, सपोर्ट स्टाफ और अधिकारियों को वर्ल्ड एथेलेटिक्स सीरीज के तहत होने वाले सभी टूर्नामेंट्स से तत्काल प्रभाव से बाहर किया जाता है.’

वर्ल्ड एथलेटिक्स के इस फैसले से रूस के खिलाड़ी इस साल ऑरेगन में होने वाली वर्ल्ड एथेलेटिक्स चैंपियनशिप, बेलग्रेड में होने वाली वर्ल्ड एथलेटिक्स इनडोर चैंपियनशिप और मस्कट में 4 मार्च से शुरू हो रही वर्ल्ड एथलेटिक्स रेस वॉकिंग टीम चैंपियनशिप में हिस्सा नहीं ले पाएंगे.

वर्ल्ड एथलेटिक्स के प्रेसिडेंट सेबेस्टियन कोए ने कहा है, ‘किसी सरकार के फैसलों के कारण खिलाड़ियों पर प्रतिबंध लगाना ठीक नहीं है लेकिन इस बार रूस के खिलाफ दुनियाभर की सरकारें, संगठन और बिजनेस सेक्टर प्रतिबंध लगा रहे हैं. ऐसे में स्पोर्ट्स को भी आगे आना होगा और इस युद्ध को रोकने के लिए और शांति को फिर से बहाल करने के लिए अन्य संस्थाओं की कोशिशों में सहयोग देना होगा.’

इससे पहले फीफा और यूईएफए ने सोमवार को अगली सूचना तक रूस को सभी इंटरनेशनल कॉम्पिटिशन से निलंबित कर दिया था. यानी रूस अब इस साल होने वाले फीफा वर्ल्ड कप से भी बाहर हो गया है. इसके अलावा फॉर्मूला वन रशियन ग्रां प्री और वर्ल्ड कप स्की इवेंट जैसे बड़े आयोजन भी अब रूस में नहीं होंगे. अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने भी सभी स्पोर्ट्स फेडरेशन से रूस या बेलारूस में आयोजित होने वाले सभी टूर्नामेंट को रद्द करने और किसी अन्य जगह पर इन्हें आयोजित करने की बात कही है.

यह भी पढ़ें..

PSL 2022 Final मैच में 41 साल के हफीज ने मचाई धूम, लाहौर कलंदर्स पहली बार बना चैंपियन

जज्बे को सलाम, रणजी ट्रॉफी के बीच बेटी गुजरी, अब पिता भी दुनिया छोड़ गए, लेकिन इस खिलाड़ी ने नहीं छोड़ा टीम का साथ

Leave a Comment

Your email address will not be published.