Ukraine Russia War Tech Apple Announced Halt In All Product Sales In Russia Amid Ukraine Crisis

यूक्रेन में जारी जंग के बीच दुनिया के कई देशों और अंतर्राष्ट्रीय संगठनों ने पहले ही रूस पर कई कड़े प्रतिबंध लगाए हैं. इस बीच टेक कंपनियां भी यूक्रेन पर हमले के खिलाफ रूस पर शिकंजा कसती दिख रही हैं. रूसी सैनिकों की ओर से यूक्रेन में किए जा रहे हमले के बीच Apple ने मंगलवार को रूस में सभी प्रोडक्ट्स की बिक्री (Product Sales) पर रोक लगाने की घोषणा की है. अमेरिका समेत कई पश्चिम देशों की सरकारों और बड़ी कंपनियों ने यूक्रेन पर हमले के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आलोचना की है. साथ ही रूस को कई मोर्चे पर अलग-थलग करने की कोशिशें की जा रही है. बैंकिंग, खेल से लेकर वोडका तक पर कई देशों ने और संगठनों ने बैन लगाए हैं.

Apple ने रूस में रोकी प्रोडक्ट्स की सेल

दुनिया की नामी टेक कंपनी ऐप्पल (Apple) की ओर से बयान में कहा गया है कि उन्होंने रूस में सभी प्रोडक्ट्स की सेल रोक दी है. पिछले हफ्ते हमने देश में सेल्स चैनल में सभी निर्यात रोक दिए. आईफोन निर्माता कंपनी ने यह भी घोषणा की कि ऐप्पल पे और अन्य सेवाओं को सीमित कर दिया गया है. ऐप्पल ने रूस के न्यूज ऐप्स आरटी और स्पूतनिक को अपने ऐप्प स्टोर से हटा दिया है. रूस के स्वामित्व वाली मीडिया आरटी और स्पुतनिक समाचार अब रूस के बाहर डाउनलोड के लिए उपलब्ध नहीं हैं. ऐप्पल की ओर से उठाए गए फैसले के बाद मायखाइलो फेडोरोव (Mykhailo Fedorov) ने इस बारे में ट्वीर कर जानकारी दी है.

ऐप्पल ने यूक्रेन पर हमले को लेकर जताई चिंता

टेक कंपनी ऐप्पल (Apple) की ओर से बयान में कहा गया है कि हम यूक्रेन पर रूसी हमले को लेकर बहुत चिंतित हैं और यूक्रेन में जारी हिंसा को लेकर पीड़ित सभी परिवारों के साथ समर्थन में खड़े हैं. हम मानवीय प्रयासों का समर्थन कर रहे हैं. शरणार्थी संकट के लिए मदद की पेशकश कर रहे हैं. ऐप्पल की ओर से ये घोषणा ऐसे वक्त में हुई है जब यूरोपीय संघ ने रूस की मीडिया आउटलेट आरटी (RT) और स्पुतनिक (Sputnik) को प्रसारण से प्रतिबंधित कर दिया है. ऐप्पल का मानना है कि वो शांति के पक्षधर हैं और इस जंग के पीड़ितों के साथ हैं.

ये भी पढ़ें:

यूक्रेन के कई शहरों पर जारी है रूस के हमले, भारतीय दूतावास के नजदीक टीवी टॉवर को बनाया निशाना, खारकीव के सिटी स्कवायर को किया तबाह

अमेरिकी दल को China की धमकी, कहा- Taiwan की आजादी का समर्थन किया तो चुकानी होगी भारी कीमत

Leave a Comment

Your email address will not be published.