Russia Ukraine News: Kharkiv stunned by Russia’s attack, Zelenskyy says, capital Kyiv is in danger | रूस के हमले से थर्रा उठा खारकीव, जेलेंस्की ने कहा- खतरे में है राजधानी कीव

russia ukraine news, russia ukraine crisis live news, Volodymyr Zelenskyy- India TV Hindi
Image Source : AP
A view of the central square following shelling of the City Hall building in Kharkiv, Ukraine, Tuesday, March 1, 2022.

Highlights

  • क्लोज-सर्किट टेलीविजन फुटेज में इमारत के सामने सड़क पर आग का एक गोला दिखाई दिया जहां कुछ कार धुएं से बाहर निकलती दिखीं।
  • यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने खारकीव के मुख्य चौराहे पर हुए हमले को ‘निर्विवाद आतंक’ करार दिया।
  • शहरों पर हमले के अलावा, ऐसी खबरें सामने आई हैं कि मॉस्को ने आबादी वाले 3 क्षेत्रों पर क्लस्टर बमों का इस्तेमाल किया है।

कीव: रूसी सेना ने यूक्रेन के दूसरे सबसे बड़े शहर खारकीव के मुख्य चौराहे ‘फ्रीडम स्क्वेयर’ तथा अन्य असैन्य ठिकानों पर मंगलवार को हमला किया जिससे पूरा शहर थर्रा उठा। इसके साथ ही रूसी सेना यूक्रेन की राजधानी कीव के और करीब पहुंच गई है तथा करीब 40 मील के काफिले में रूस के टैंक और अन्य सैन्य वाहन कूच कर रहे हैं। सूर्योदय के कुछ ही समय बाद, एक रूसी सैन्य हमले में यूक्रेन के दूसरे सबसे बड़े शहर के केंद्र पर हमला किया गया जिससे प्रतीकात्मक सोवियत-युग के क्षेत्रीय प्रशासन भवन को बुरी तरह नुकसान पहुंचा।

आवासीय क्षेत्रों में विस्फोट होते दिखाई दिए


क्लोज-सर्किट टेलीविजन फुटेज में इमारत के सामने सड़क पर आग का एक गोला दिखाई दिया जहां कुछ कार धुएं से बाहर निकलती दिखीं। यह तुरंत स्पष्ट नहीं हो सका कि किस प्रकार के हथियार का इस्तेमाल किया गया या कितने लोग मारे गए, लेकिन यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने कहा कि दर्जनों लोग हताहत हुए हैं। ऑनलाइन पोस्ट किए गए एक वीडियो में लगभग 15 लाख की आबादी वाले रणनीतिक खारकीव में क्षेत्र के सोवियत-युग के प्रशासनिक भवनों और आवासीय क्षेत्रों में विस्फोट होते दिखाई दिए।

कीव में टीवी टॉवर को निशाना बनाया गया

वहीं, यूक्रेन की संसद के अनुसार, राजधानी कीव में में एक टीवी टॉवर को निशाना बनाया गया जिसने इसके चारों ओर धुएं के गुबार की एक तस्वीर पोस्ट की। स्थानीय मीडिया ने बताया कि कई विस्फोट हुए और कुछ ही समय बाद यूक्रेन के टीवी चैनलों ने प्रसारण बंद कर दिया। इस बीच खारकीव में आज हुए एक हमले की चपेट में आने से कर्नाटक निवासी एक भारतीय छात्र की मौत हो गई। रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध शुरू होने के बाद से किसी भारतीय की मौत का यह पहला मामला है।

EU का सदस्य बनने का यूक्रेन का आवेदन मंजूर

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने खारकीव के मुख्य चौराहे पर हुए हमले को ‘निर्विवाद आतंक’ करार दिया और इसे युद्ध अपराध कहा। उन्होंने कहा, ‘कोई भी माफ नहीं करेगा। यह हमला एक युद्ध अपराध है। कोई नहीं भूलेगा। यह रूसी संघ का राज्य आतंकवाद है।’ जेलेंस्की ने आज यूरोपीय संघ की संसद से एक भावनात्मक अपील में कहा कि यूक्रेन ‘यूरोप का समान सदस्य बनने के लिए भी’ लड़ रहा है। उन्होंने कहा, ‘मेरा मानना है कि आज हम हर किसी को दिखा रहे हैं कि हम क्या हैं। हमने साबित कर दिया है कि कम से कम, हम आपके जैसे ही हैं।’ जेलेंस्की के 27 सदस्यीय यूरोपीय संघ में यूक्रेन को सदस्य बनाने के लिए किए गए आवेदन को मंजूर कर लिया गया।

कीव के और करीब पहुंची रूसी सेना

इसके साथ ही रूसी सेना यूक्रेन की राजधानी कीव के और करीब पहुंच गई है तथा करीब 40 मील के काफिले में रूस के टैंक और अन्य सैन्य वाहन कूच कर रहे हैं। लड़ाई से मरने वालों की कुल संख्या स्पष्ट नहीं है, लेकिन एक वरिष्ठ पश्चिमी खुफिया अधिकारी ने मंगलवार को अनुमान लगाया कि अब तक 5,000 से अधिक रूसी सैनिकों को पकड़ लिया गया है या मार दिया गया है। क्रेमलिन के कठिन आर्थिक प्रतिबंधों के चलते अलग-थलग पड़ने के बीच रूसी सैनिक युद्ध के छठे दिन यूक्रेन के 2 सबसे बड़े शहरों की ओर बढ़ गए।

रूस के हमले ने पूरी दुनिया को झकझोरा
रूस के इस हमले ने 21वीं सदी की विश्व व्यवस्था को झकझोर दिया है। शहरों पर हमले के अलावा, ऐसी खबरें सामने आई हैं कि मॉस्को ने आबादी वाले 3 क्षेत्रों पर क्लस्टर बमों का इस्तेमाल किया है। क्रेमलिन ने मंगलवार को इस बात से इनकार किया कि उसने इस तरह के हथियारों का इस्तेमाल किया है और फिर से जोर देकर कहा है कि उसके बलों ने केवल सैन्य ठिकानों पर हमला किया। हालांकि, घरों, स्कूलों और अस्पतालों पर बमबारी की कई तस्वीरें सामने आई हैं।

‘दबाव बनाने की कोशिश कर रहा है रूस’

इस बीच, पूरे यूक्रेन में अनेक लोगों ने एक और रात आश्रयों, तहखानों या गलियारों में बिताई। वहीं, युद्ध को रोकने के लिए चल रही वार्ता केवल आगे के दौर की वार्ता पर सहमति बनने के साथ ही समाप्त हो गई है। यूक्रेन के राष्ट्रपति ने कहा कि बमबारी में वृद्धि केवल उन पर दबाव बनाने के उद्देश्य से की गई है। उन्होंने सोमवार को देर रात जारी वीडियो संदेश में कहा, ‘रूस इन आसान तरीकों से (यूक्रेन पर) दबाव बनाने की कोशिश कर रहा है।’

‘कीव कोई और रियायत देने को तैयार नहीं’

जेलेंस्की ने हालांकि दिन में दोनों पक्ष के बीच हुई लंबी वार्ता की जानकारी नहीं दी, लेकिन उन्होंने कहा कि कीव कोई रियायत देने को तैयार नहीं है, वह भी तब जब एक ओर रॉकेट और तोप से हमले किए जा रहे हैं। उल्लेखनीय है कि 6 दिन से जारी युद्ध से रूस अलग-थलग पड़ता जा रहा है जबकि यूक्रेन से भी उसे अप्रत्याशित रूप से प्रतिरोध का सामना करना पड़ा रहा है। घरेलू स्तर पर रूस को आर्थिक रूप से भी झटका लगा है।

‘राजधानी लगातार खतरे में है’

बेलारूस की सीमा पर सोमवार को जब रूस और यूक्रेन के बीच वार्ता हो रही थी तभी कीव में धमाके सुनाई दे रहे थे और रूसी सैनिक 30 लाख की आबादी वाली यूक्रेन की राजधानी कीव की ओर बढ़ रहे थे। जेलेंस्की ने कहा कि रूसियों के लिए कीव ‘मुख्य लक्ष्य’ है। उन्होंने कहा, ‘वे हमारे देश की राष्ट्रीयता को खंडित करना चाहते हैं और इसलिए राजधानी लगातार खतरे में है।’ यूक्रेन के दूसरे सबसे बड़े और करीब 15 लाख आबादी वाले शहर खारकीव से आए वीडियो में दिख रहा है कि रिहायशी इलाकों में बमबारी हो रही है।

जोरदार धमाकों से कांप रही हैं इमारतें

जोरदार धमाकों से लगातार अपार्टमेंट इमारतों में कंपन हो रहा है और आसमान में आग तथा धुएं का गुबार दिखाई दे रहा है। युद्धग्रस्त यूक्रेन के अन्य शहरों और कस्बों में भी लड़ाई चल रही है। जेलेंस्की के सलाहकार ओलेक्सी अरेस्टोविच ने बताया कि रणनीतिक रूप से अहम और अजोव सागर के किनारे स्थित बंदरगाह शहर मारियुपोल की स्थिति ‘अधर में’ है। पूर्वी शहर समी के तेल डिपो पर बमबारी की भी खबर है।

बड़ी संख्या में मारे गए यूक्रेनी सैनिक

अंतरराष्ट्रीय अपराध न्यायालय के मुख्य अभियोजक ने कहा है कि वह जांच शुरू करने की योजना बना रहा है और संघर्ष की निगरानी कर रहा है। क्षेत्रीय प्रशासन प्रमुख ओलेह सिनेहुबोव ने कहा कि सिटी सेंटर में प्रशासन मुख्यालय भी रूसी गोलाबारी की चपेट में आ गया है। यूक्रेन के अधिकारियों ने रविवार को खारकीव और कीव के बीच ओख्तिरका शहर में एक सैन्य अड्डे पर हमले का विवरण और तस्वीरें जारी करते हुए कहा कि कुछ स्थानीय निवासियों के साथ 70 से अधिक यूक्रेनी सैनिक मारे गए। (भाषा)

Leave a Comment

Your email address will not be published.