Redmi Smart Band Pro Review: बजट में बेस्ट फिटनेस ट्रैकर?

Xiaomi ने Redmi Smart Band Pro फिटनेस बैंड को Redmi Note 11 और Redmi Note 11S स्मार्टफोन के साथ लॉन्च किया था। जैसा कि इस फिटनेस बैंड के नाम से भी पता चलता है, Redmi Smart Band का यह अपग्रेडेड मॉडल है, और कई एक्स्ट्रा फीचर्स के साथ आता है। नए Redmi Smart Band Pro में कई जरूरी फीचर्स दिए गए हैं, जिनमें एमोलेड डिस्प्ले, SpO2 मॉनिटरिंग, स्ट्रेस ट्रैकिंग और वर्कआउट ट्रैकिंग भी शामिल है। फीचर्स अपग्रेड होने के साथ इसका प्राइस भी बढ़ा दिया गया है, लेकिन यह बहुत बड़ी बढोतरी नहीं है। क्या Redmi Smart Band Pro सही मायने में वैल्यू फॉर मनी डिवाइस है? मैंने इसे कड़े टेस्ट से गुज़ारते हुए इस प्रश्न का उत्तर जानने की कोशिश की।
 

Redmi Smart Band Pro price in India

भारत में Redmi Smart Band Pro का प्राइस 3,999 रुपये है, लेकिन लिमिटिड टाइम ऑफर के तहत कंपनी इसे 3,499 रुपये में सेल कर रही है। कंपनी का यह नया फिटनेस बैंड 14 फरवरी से सेल पर उपलब्ध है।
 

redmi

Redmi Smart Band Pro design

रेडमी स्मार्टबैंड प्रो में आपको आयताकार पॉलीकार्बोनेट बॉडी देखने को मिलती है, जिसमें 1.47-इंच का एमोलेड डिस्प्ले दिया गया है। पैनल काफी बड़ा और क्लीयर है, जिसमें आंखों पर ज़ोर डाले बिना टेक्स्ट को आसानी से पढ़ा जा सकता है। डिस्प्ले में ऑलवेज ऑन मोड है और इसका एम्बियंट लाइट सेंसर ब्राइटनेस को अपने आप ही एडजस्ट कर लेता है। इसकी बॉडी में कोई भी बटन नहीं दिया गया है और नेविगेशन टच के जरिए किया जा सकता है। बैंड में TPU (थर्मोप्लास्टिक पॉलीयूरीथेन) स्ट्रैप का इस्तेमाल किया गया है, जो Mi Band 6 के जैसे कर्व्ड है। स्ट्रैप में दिए कनेक्टर की मदद से इन्हें आसानी से निकाला जा सकता है, और इसके लिए किसी औजार की जरूरत नहीं पड़ती है। 

फिटनेस बैंड में इसकी बॉडी के नीचे की ओर हेल्थ सेंसर दिए गए हैं, जिन्हें पिल (गोली) शेप वाले बम्प के अंदर फिट किया गया है। इसे चार्ज करने के लिए कॉन्टेक्ट पिन भी इसी जगह दी गई हैं। इसके चार्जर में मैग्नेट दी गई हैं, जिससे फिटनेस बैंड को चार्जिंग पर लगाने में बहुत आसानी हो जाती है। 

डिवाइस बहुत हल्का है और इसका वज़न केवल 25.5 ग्राम है। कलाई पर बंधने के बाद यह ज्यादा महसूस नहीं होता है। मैं इसे पहनकर सोया भी, लेकिन फिर भी मुझे कोई परेशानी नहीं हुई। इसमें 200mAh बैटरी दी गई है और यह 5ATM वॉटर रसिस्टेंट है। 
 

Redmi Smart Band Pro software and features

Redmi Smart Band Pro को Android के अलावा iOS स्मार्टफोन्स के साथ भी पेयर किया जा सकता है। एंड्रॉयड पर इसे Xiaomi Wear के साथ पेयर किया जा सकता है और आईओएस पर Xiaomi Wear Lite ऐप के जरिए पेयर किया जा सकता है। पेयरिंग का प्रोसेस काफी सिंपल है और इसके लिए एक Mi Account की जरूरत पड़ती है। पेयर करने के बाद ऐप के जरिए इसकी सेटिंग्स को भी बदला जा सकता है। ये ऐप्स कई Mi और Redmi वियरेबल्स को सपोर्ट करते हैं और इस्तेमाल करने में काफी आसान हैं। ऐप के जरिए आप वॉचफेस भी बदल सकते हैं। इसके लिए डिवाइस में 50 वॉचफेस दिए गए हैं। वॉचफेस पर आप फोन की फोटो गैलरी में मौजूद किसी फोटो को भी सेट कर सकते हैं।
 

redmi

Redmi Smart Band Pro फिटनेस बैंड में Ambiq Apollo 3.5 SoC दिया गया है और यह कस्टम सॉफ्टवेयर पर रन करता है। कनेक्टिविटी के लिए डिवाइस में Bluetooth 5 LE दिया गया है। जीपीएस का न होना निराश करता है और सही लोकेशन सही से रिकॉर्ड करने के लिए इसे स्मार्टफोन पर निर्भर रहना पड़ता है। स्मार्टफोन के नोटिफिकेशन को आप फिटनेस बैंड पर देख सकते हैं और यह इनकमिंग कॉल के अलर्ट भी देता है। 

इस फिटनेस बैंड पर आप लगभग 110 तरह के वर्कआउट ट्रैक कर सकते हैं, जिनमें 14 वॉटर फिटनेस एक्सरसाइज भी हैं। आमतौर पर मिलने वाले वर्कआउट्स में वॉकिंग, रनिंग, साइकलिंग, ट्रैकिंग, एचआईआईटी और स्विमिंग आदि को झट से एक्टिवेट किया जा सकता है। रनिंग, वॉकिंग और ट्रेडमिल जैसी एक्टिविटी को पहचान कर शुरू करने का सुझाव देता है। इसके अलावा यह हार्ट रेट ट्रैकिंग, SpO2, स्लीप, स्ट्रेस और मेंस्ट्रुअल साइकिल ट्रैकिंग भी कर सकता है। हार्ट रेट को यह लगातार ट्रैक कर सकता है और सोते समय एसपीओ2 लेवल भी ट्रैक कर सकता है लेकिन पावर की खपत को कम करने के लिए ये फीचर्स पहले से ही डिसेबल आते हैं। आप इन्हें सेटिग्स से ऑन कर सकते हैं। 

डिवाइस का यूजर इंटरफेस (UI) बहुत साधारण है। होम स्क्रीन से राइट स्वाइप पर आपको क्विक टॉगल मिल जाते हैं और लेफ्ट स्वाइप पर हार्ट रेट, एसपीओ2, वेदर (मौसम), वर्कआउट जैसे विजेट मिल जाते हैं। स्क्रीन पर टॉप से बॉटम की ओर स्वाइप करने पर आपको पेयर किए गए स्मार्टफोन के नोटिफिकेशन्स मिल जाते हैं और बॉटम से टॉप की ओर स्वाइप करते समय स्मार्टबैंड के सभी फंक्शन मिल जाते हैं। 
 

Redmi Smart Band Pro performance and battery life

मैंने रेडमी स्मार्टबैंड प्रो को एक हफ्ते तक इस्तेमाल किया और हर समय पहने रहने पर भी यह मुझे काफी आरामदायक लगा। डिस्प्ले को आउटडोर कंडिशन में पढ़ने में परेशानी नहीं हुई, लेकिन किसी अंधेरे कमरे में ऑटो ब्राइटनेस मोड को चालू रखने के बावजूत भी यह बहुत चमकदार लगी। इंटरफेस आसान था, लेकिन शुरुआत में स्क्रालिंग करना बहुत ज्यादा स्मूद नहीं था। रिव्यू पीरियड के दौरान इसमें आए सॉफ्टवेअर अपडेट 1.1.127 के बाद यह समस्या खत्म हो गई। इसका रेज-टू-वेक फीचर एकदम सही काम कर रहा था और कलाई उठाने पर डिस्प्ले ऑन हो जाती थी। फिर हाथ को नीचे करते ही यह वापस से ऑफ हो जाती थी।
 

redmi

ऑटोमैटिक हार्ट रेट और SpO2 मॉनिटरिंग के अलावा मुझे ऐप के जरिए एप्लीकेशन नोटिफिकेशन्स और एडवांस ट्रैकिंग मेट्रिक्स को खुद से ऑन करना पड़ा। मैंने इसे हर एक मिनट के बाद मेरा हार्ट रेट मॉनिटर करने के मकसद से सेट किया और सोने के बाद हर 30 मिनट में एसपीओ2 मॉनिटर करने के लिए सेट किया। जबकि इनकमिंग नोटिफिकेशन्स के लिए वाइब्रेट मोड पर सेट कर दिया। 

फिटनेस ट्रैकिंग के मामले में बैंड काफी सटीक है। मैंने इसके हार्ट रेट मॉनिटरिंग की तुलना Apple Watch Series 7 की मॉनिटरिंग से की और रिजल्ट लगभग एक जैसे थे। हार्ट रेट को हर एक मिनट में मॉनिटर करने के लिए सेट करने पर बैटरी लाइफ पर भारी असर पड़ा, लेकिन रिजल्ट ज्यादा उपयोगी साबित हुआ। स्लीप ट्रैकिंग भी काफी सटीक थी। मेरे सोते समय भी डिवाइस ने अच्छी तरह से SpO2 मॉनिटर किया। मैंने फिर दिन के समय खुद से रीडिंग ली और पाया कि बताई गई रीडिंग एक मेडिकल-ग्रेड पल्स ऑक्सीमीटर की रेंज के समान थीं। 

मैंने रेडमी स्मार्टबैंड प्रो को शाम की सैर के लिए भी इस्तेमाल किया। क्योंकि इसमें बिल्ट-इन जीपीएस नहीं है, यह पेयर किए स्मार्टफोन पर निर्भर रहता है। बिना जपीएस के इसमें आया रिजल्ट असल में तय की गई दूरी से कम था। मैंने 1 किलोमीटर की दूरी तय कि, जबकि डिवाइस ने 0.96 किलोमीटर दिखाया। फिर स्मार्टफोन के साथ पेयर करने के बाद इसने बेहतर रिजल्ट दिखाया और उसी तय की गई दूरी को 1.02 किलोमीटर दिखाया।
 

redmi

 
जैसा कि मैंने पहले बताया है, यह कुछ वर्कआउट एक्टिविटी अपने आप ही भांप लेता है। मैंने पैदल चलना शुरू किया, तो डिवाइस ने एक मिनट के भीतर उसे पहचान लिया। मैंने 1000 कदम गिने, तो इसने 1,002 दिखाया। यह मामूली फर्क इस प्राइस रेंज के हिसाब से मिलना लाजमी है। 

इसकी बैटरी क्षमता 200mAh की है, लेकिन फिर भी यह अच्छा बैकअप दे देती है। लेकिन यह बहुत हद तक इस्तेमाल करने के तरीके पर निर्भर करता है। मैंने इसमें ऑलवेज ऑन डिस्प्ले को इस्तेमाल किया, एक मिनट के अंतराल पर हार्ट रेट मॉनिटरिंग को सेट किया, हर आधे घंटे में SpO2 मॉनिटरिंग को सेट किया और एडवांस स्लीप ट्रैकिंग ऑप्शन का भी इस्तेमाल किया। ऐप नोटिफिकेशन्स भी चालू की गई थीं और हर दिन यह मेरे आउटडोर वॉक को भी ट्रैक कर रहा था। 

इस तरह के भारी इस्तेमाल के बाद भी यह 4.5 दिन तक चल गया। हालांकि, कंपनी ने इसके लिए 14 दिन के बैटरी बैकअप का दावा किया है। कुछ कम फीचर्स का इस्तेमाल कर आप इसे सिंगल चार्ज में एक हफ्ते तक चला सकते हैं। मैग्नेटिक चार्जर की मदद से इसे आसानी से चार्जिंग पर लगाया जा सकता है और डेढ़ घंटे से भी कम समय में बैटरी पूरी तरह से चार्ज हो जाती है। 
 

Verdict

पिछले साल Redmi Watch को रिव्यू करने बाद मुझे वह पसंद आई लेकिन उसमें SpO2 मॉनिटरिंग की कमी थी। कंपनी ने इस पर ध्यान दिया और Redmi Smart Band Pro में उसे पूरा किया। अगर रेडमी वॉच से तुलना करें तो इस फिटनेस बैंड में केवल जीपीएस की कमी है। अगर आपको सैर पर जाते समय स्मार्टफोन साथ ले जाने की आदत है तो यह फिटनेस बैंड वॉक को सही से ट्रैक कर पाएगा, ऐसी उम्मीद की जा सकती है। 

एक फिटनेस बैंड की सभी खूबियां इस डिवाइस में मिलती हैं और यह एक अच्छी कीमत पर लॉन्च किया गया है। यदि आपको ज्यादा खर्च नहीं करना है, तो आप Mi band 6 को भी चुन सकते हैं। यह कीमत में सस्ता भी है और लगभग वैसा ही फील देता है। Smart Band Pro का सीधा मुकाबला Honor Band 6 से है, जो इसी प्राइस रेंज पर समान फीचर्स देता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.