ukraine war russia lashes out at countries arming ukraine understand danger of consequences – Russia-Ukraine War: रूस की धमकी

मॉस्को. यूक्रेन के खिलाफ रूस के हमले (Russia-Ukraine War News) का मंगलवार को छठा दिन है. दुनियाभर के कई देश यूक्रेन को मिलिट्री इक्विपमेंट भेजकर मदद कर रहे हैं. इसमें ब्रिटेन, अमेरिका, जापान, कनाडा और जर्मनी भी शामिल हैं. रूस ने इन देशों को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर इन हथियारों का इस्तेमाल रूस के खिलाफ किया गया तो, इन्हें भेजने वाला देश जिम्मेदार होगा. ऐसे देशों को बड़ी कीमत चुकानी होगी.

पुतिन ने युद्ध के पांचवें ही दिन एटमी हथियारों (Nuclear Weapons) को तैयार रखने का आदेश देकर दुनिया को चिंता में डाल दिया. सबको डर है कि रूस कहीं न्यूक्लियर अटैक न कर दे. ऐसे में अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) का बयान भी आया है. बाइडन ने कहा कि अमेरिका के लोगों को परमाणु बम के हमले से डरने की जरूरत नहीं है. ऐसे में समझा जाता है कि अगर रूस ने परमाणु बम से हमला किया, तो अमेरिका भी इसका जवाब देने से पीछे नहीं हटेगा.

Ukraine-Russia War: यूक्रेन-रूस में साढ़े 3 घंटे की बातचीत रही बेनतीजा, पुतिन ने समझौते के लिए रखी ये 3 शर्तें

कितनी ताकतवर है रूसी सेना?
यूक्रेन के पास 11 लाख सैनिक हैं, जिनमें से 2 लाख एक्टिव, जबकि 9 लाख रिजर्व हैं. वहीं रूस के पास 29 लाख सैनिक हैं. इनमें 9 लाख एक्टिव हैं, जबकि 20 लाख सैनिक रिजर्व हैं. बात करें लड़ाकू विमानों की तो यूक्रेन के पास 98 लड़ाकू विमान है, जबकि रूस के पास 1511 लड़ाकू विमान हैं. सैन्य हेलीकॉप्टर की बात करें तो, यूक्रेन के 98 की अपेक्षा रूस के पास 544 अटैकिंग हेलीकॉप्टर्स हैं. यूक्रेन के पास 2596 टैंक है, जबकि रूस के पास 12,240 टैंक है. तोपखाने की बात करें तो यूक्रेन के पास 2040, जबकि रूस के पास 7571 तोपखाने हैं. यूक्रेन के पास 12,303 बख्तरबंद गाड़ियां हैं, जबकि रूस के पास 30,122 बख्तरबंद गाड़ियां हैं.
अब तक की लड़ाई में लगभग 5,300 रूसी सैनिकों के मरने का दावा
यूक्रेन ने दावा किया है कि अब तक की लड़ाई में लगभग 5,300 रूसी सैनिक मारे गए हैं. यूक्रेनी सेना ने लगभग 151 टैंक, 29 विमान और 29 हेलिकॉप्टर को तबाह कर दिया है. दूसरी तरफ संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार कार्यालय ने यूक्रेन में 94 लोगों की मौत और कम से कम 376 नागरिकों के घायल होने की पुष्टि की है.

Ukraine-Russia War: कीव की तरफ बढ़ रहा रूसी सेना का 64 KM लंबा काफिला, सैटेलाइट तस्वीरों से हुआ खुलासा

संकट को हल करने की डिप्लोमैटिक कोशिशें भी जारी
सैन्य टकराव के बीच इस संकट को हल करने की डिप्लोमैटिक कोशिशें भी जारी हैं. यूक्रेन संकट पर यूनाइटेड नेशन ह्यूमन राइट्स काउंसिल (UNHRC) ने इमरजेंसी डिबेट का प्रस्ताव दिया था. इस प्रस्ताव के पक्ष में 29 और विपक्ष में 5 वोट पड़े. भारत समेत 13 देशों ने मतदान में भाग नहीं लिया. UNHRC में कुल 47 सदस्य हैं.

Tags: Joe Biden, Russia, Russia ukraine war, Vladimir Putin

Leave a Comment

Your email address will not be published.