Success Story Of IAS Officer Ankita Who Fails One Time In Upsc Exam And Then Tops The Exam

यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी करने वाले परीक्षार्थी को सच्ची लगन और कड़ी मेहनत से परीक्षा की तैयारी करने को कहा जाता है. आईएएस अंकिता कहती है कि ऐसे कठिन परिश्रम के साथ परीक्षा को पास कर सकते है. हरियाणा (Haryana) के रोहतक की रहने वाली अंकिता (Ankita) ने यूपीएससी की परीक्षा AIR-14 हासिल करने के लिए काफी मेहनत की है. परीक्षा का रिजल्ट आने पर उन्हें खुद को विश्वास नहीं हुआ था कि उन्होंने टॉप रैंक (Top Rank) हासिल की है.

अंकिता की शुरुआती पढ़ाई रोहतक से ही हुई और फिर उन्होंने दिल्ली (Delhi) के हिंदू कॉलेज से बीएससी की डिग्री हासिल की. फिर उन्होंने आईआईटी से एमएससी की. कॉलेज स्टडी से पहले ही उन्होंने यूपीएससी की परीक्षा (UPSC Exam) की तैयारी करने का मन बना लिया था. पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद ही उन्होंने यूपीएससी की तैयारी करना शुरू कर दिया. अंकिता के परिवार की बात करे तो उनके पिता सत्यवान एक शुगर मिल में अकाउंटेंट हैं.

उन्होंने बताया कि उनकी बेटी अंकिता शुरू से पढ़ाई में होशियार रहीं है. 12वीं के बाद अंकिता को स्कॉलरशिप (Scholarship) मिल गई, इसी कारण उन्हें आर्थिक परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा. अंकिता की मां एक स्कूल में टीचर हैं, लेकिन कुछ साल पहले रोड एक्सीडेंट में उनकी मौत हो गई.

अंकिता अपनी सफलता का श्रेय अपनी मां को देते हुए कहती है कि उनकी मां हमेशा उनका साथ देती रहीं है और छोटी जगह से होने के बावजूद भी उन्होंने लड़का-लड़की में कभी भेदभाव नहीं किया. यूपीएससी की परीक्षा देने के पहले प्रयास में अंकिता का सिलेक्शन नहीं हुआ था. इसलिए उन्होंने दूसरी बार कोशिश करने का फैसला किया और पहले अटेम्प्ट में की गई गलतियों पर काम किया और सोशल मीडिया से दूरी बना ली. जो गलतियां अंकिता ने पहले अटेम्प्ट के दौरान कीं, उन्हें सुधारा और दूसरे अटेम्प्ट की परीक्षा दी.

सोशल मीडिया से बनाई दूरी
सोशल मीडिया से दूरी बनाने का असर उन्हें दिखा और उन्होंने न सिर्फ एग्जाम क्लीयर किया बल्कि टॉप रैंक भी परीक्षा में हासिल की. यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी करने वाले परीक्षार्थियों को अंकिता सलाह देती है कि एग्जाम में क्या करना है, ये अभ्यर्थी को कुछ समय बाद पता चल ही जाता है. ऐसे में ये जानना ज्यादा जरूरी है कि तैयारी के दौरान उन्हें क्या नहीं करना है. परीक्षा की तैयारी करने के दो सालों के दौरान अंकिता सोशल मीडिया (Social Media) को पूरी तरह भूल गईं, उन्हें लगता है कि सोशल मीडिया अभ्यर्थी को भटकाने का काम करता है.

​​यूपीएससी इंटरव्यू क्वेश्चन: वकील हमेशा काले रंग का कोट ही क्यों पहनते है?

​युवाओं के लिए खुशखबरी, डीआरडीओ में वॉक-इन इंटरव्यू के आधार पर होगा सिलेक्शन, बस करना होगा ये काम

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Leave a Comment

Your email address will not be published.