Shares Prices Fall Since February 2022 After Stock Market Fall But Listed Companies Promoters Increases Stake

Promoters Increases Stake: रूस यूक्रेन विवाद ( Russia Ukraine Tension) और कच्चे तेल ( Crude Oil Price) के अंतरराष्ट्रीय बाजारों में बढ़ती कीमतों के चलते भारतीय शेयर बाजार में लगातार गिरावट देखी गई है. वहीं विदेशी निवेशक ( Foreign Investors) भी लगातार बिकवाली कर रहे हैं जिसके चलते गिरावट आई है. लेकिन ये गिरावट कंपनियों के लिए वरदान साहित हो रहा है. इस गिरावट का फायदा उठाने में कंपनियों के प्रोमोटर और उनके बड़े अधिकारी जुट गए हैं. आंकड़ों के मुताबिक 1 फरवरी के बाद से बाजार में आई गिरावट के बाद कंपनियों के प्रोमोटर लगातार सेकेंडरी मार्केट से शेयर खरीद रहे हैं. 

दरअसल वह इसलिए क्योंकि शेयर बाजार में गिरावट के चलते कंपनियों के शेयर बाजार के भाव नीचे आ गए हैं जिससे इनकी आकर्षित हो गई है., वैल्यूएशन में गिरावट का फायदा उठाने में प्रोमोटर्स जुट गए हैं. आंकड़ों के मुताबिक एचसीएल टेक्नोलॉजी, चंबल फर्टिलाइजर, मेट्रोपोलिस हेल्थकेयर, केआरबीएल,  बजाज ऑटो, वेस्टलाइफ डेवलपमेंट, हाटसुन एग्रो प्रोडक्ट, महाराष्ट्र सीमलेस, जैसी कंपनियों के प्रोमोटर्स ने ओपन मार्केट से शेयर बाजार में गिरावट के दौरान अपनी कंपनियों के शेयर खरीदे हैं.

निफ्टी में जहां 4.4 फ़ीसदी की गिरावट आई है. तो मिडकैप – स्मॉलकैप के शेयरों में भी भारी गिरावट आई है.  विदेशी निवेशकों ने इस दौरान 36000 करोड़ के शेयर्स बेचे हें.  इसी मौका का फायदा उठाते हुए कंपनियों के प्रमोटर्स ने फरवरी महीने के बाद से ही अपने कंपनियों के शेयर ओपन मार्केट से खरीदे थे. 

उदाहरण के लिए मेट्रोपोलिस हेल्थ केयर के शेयर में फरवरी के महीने में 22 फीसदी की गिरावट आई है और इस दौरान कंपनी के फाउंडर ने 1.50 लाख शेयर्स 30 करोड़ रुपये में खरीदे हैं. एचसीएल टेक्नोलॉजीज के प्रमोटर्स ने 1128 करोड़ रुपये के शेयर्स फरवरी महीने में ओपन मार्केट से खरीदे हैं. इस दौरान शेयर्स की कीमत में 16 फ़ीसदी की गिरावट आई है. जनवरी के बाद से एचसीएल टेक्नोलॉजीज का शेयर 1352 रुपये से घटकर 1130 रुपये तक जा लुढ़का है.

चंबल फर्टिलाइजर के शेयर में 13 फ़ीसदी की गिरावट आई है और इस दौरान कंपनी के प्रोमोटर ने ओपन मार्केट से 30 करोड़ के वैल्यूएशन के आठ लाख शेयर खरीदे हैं. केआरबीएल के प्रोमोटर्स ने15.5 करोड़ में 8 लाख शेयर्स खरीदे हैं. केआरबीएल का शेयर 16% गिर चुका है. जानकारों के मुताबिक भले ही बाजार में गिरावट आई हो जिसका असर इन कंपनियों के शेयरों पर दिख रहा है. इन कंपनियों के प्रोमोटर्स का मानना है कि इन कंपनियां बेहद मजबूत हैं जिसके चलते वे इस गिरावट के दौर का फायदा उठा रहे हैं. 

यह भी पढ़ें: 

Air Travel To Be Costly: महंगा होगा हवाई सफऱ, 3.2 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ हवाई ईंधन की कीमतें रिकॉर्ड लेवल पर

Indian Railway: 1 मार्च से रेलवे करने जा रहा ये काम, करोड़ों यात्रियों को मिलेगी राहत, जानें क्या है प्लान?

Leave a Comment

Your email address will not be published.