russia ukraine war modi government indian students evacuation plan

Russia-Ukraine War: यूक्रेन-रूस की जंग का आज पांचवां दिन है. यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों (Indian Students in ukraine) को लाने के मिशन पर मोदी सरकार (Modi government) तेजी से काम कर रही है. सोमवार को पीएम मोदी ने मंत्रियों के साथ एक बैठक की. इसमें तय किया गया कि सरकार छात्रों और फंसे हुए भारतीयों की निकासी के लिए चार मंत्रियों को यूक्रेन के बॉर्डर तक भेजेगी.

ANI न्यूज एजेंसी के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, किरेन रिजिजू और जनरल (रिटायर्ड) वीके सिंह निकासी मिशन में कोऑर्डिनेशन और छात्रों की मदद करने के लिए यूक्रेन के बॉर्डर तक जाएंगे. ये मंत्री भारत के विशेष दूत के तौर पर वहां जाएंगे. सिंधिया रोमानिया और माल्डोवा से छात्रों को निकालने का काम देखेंगे, जबकि रिजिजू स्लोवाकिया जाएंगे. हरदीप पुरी हंगरी और वीके सिंह पोलैंड से छात्रों की निकासी सुनिश्चित करेंगे.

Russia-Ukraine War: रूस के बजाय यूक्रेन से बोले PAK मंत्री- पीछे करो अपनी सेना, बातचीत से खत्म करो जंग

मोदी ने कहा- छात्रों को निकालना हमारी प्राथमिकता
पीएम मोदी ने यूक्रेन की मौजूदा स्थिति को लेकर पिछले 24 घंटों में दो बार हाई लेवल की बैठक की. इसमें प्रधानमंत्री मोदी ने भारतीय नागरिकों की निकासी पर जोर दिया. रविवार शाम उत्तर प्रदेश से लौटने के बाद प्रधानमंत्री ने यूक्रेन में मौजूदा स्थिति पर विदेश मंत्री एस जयशंकर, विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला, कैबिनेट सचिव राजीव गौबा और कई वरिष्ठ नौकरशाहों के साथ दो घंटे की लंबी बैठक की थी. सोमवार को उन्होंने एक और बैठक की. बैठक में पीएम मोदी ने एक बार फिर दोहराया कि भारतीय छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करना और उन्हें निकालना देश की सर्वोच्च प्राथमिकता है.

ऑपरेशन गंगा के जरिये पड़ोसी देशों से वापस आ रहे छात्र
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने संघर्षग्रस्त यूक्रेन से फंसे छात्रों और भारतीय नागरिकों को वापस लाने के लिए ऑपरेशन गंगा शुरू किया है. एयर इंडिया द्वारा “ऑपरेशन गंगा” के तहत विशेष उड़ानें संचालित की जा रही हैं. इस बीच आज सुबह यूक्रेन से भारतीयों को लेकर पांचवीं फ्लाइट दिल्ली पहुंची. इसमें 249 छात्र थे. एक अन्य फ्लाइट बुडापेस्ट से 240 भारतीयों को लेकर उड़ चुकी है.

Ukraine-Russia War: हॉलैंड-जर्मनी के बाद अब अमेरिका भी यूक्रेन को देगा स्टिंगर मिसाइल

1156 के करीब भारतीयों को बचाया गया
विदेश सचिव हर्षवर्धन शृंगला ने कहा कि अब तक एक हजार से भी अधिक नागरिकों को यूक्रेन से निकाला जा चुका है. जानकारी के अनुसार, अब तक यूक्रेन से 1156 के करीब भारतीयों को रेस्क्यू किया गया है. रूस और यूक्रेन के बीच छिड़ी जंग ने भारतीय छात्रों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. यूक्रेन में 15 हजार से ज्यादा छात्र फंसे हुए हैं. इन स्टूडेंट्स की वतन वापसी के लिए ‘ऑपरेशन गंगा’ जारी है.

Tags: Modi government, Russia ukraine war, Ukraine, Vladimir Putin

Leave a Comment

Your email address will not be published.