Moldova new route for evacuation of indian citizen from ukraine

नई दिल्ली: यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों (Indian Citizen in Ukraine) की सुरक्षित स्वदेशी वापसी को लेकर भारत सरकार (Indian Government) लगातार कोशिश कर रही है. विदेश मंत्रालय (MEA) ने मंगलवार को कहा कि भारतीयों को मोल्दोवा के रास्ते से एक नए रूट के जरिए भारत लाया जाएगा. वहीं भारत सरकार ने यूक्रेन की अपील पर मानवीय आधार पर मेडिकल और अन्य राहत सामग्री पहुंचाने का फैसला किया है. यूरोप में स्थित भारतीय दूतावासों से विभिन्न टीम को यूक्रेन की सीमा से लगे देशों में भेजा जा रहा है.

न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, नई दिल्ली में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि, मोल्दोवा में यह नया रूट ऑपरेशनल है और विदेश मंत्रालय की टीम जरूरतमंद लोगों की सहायता के लिए तैयार है. उन्होंने यह भी कहा कि “वे रोमानिया के रास्ते भी भारतीयों को निकालने में मदद करेंगे.”

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया मोल्दोवा में भारतीयों की सुरक्षित वापसी की इस पूरी प्रक्रिया की देखरेख करेंगे. इसके अलावा किरन रिजिजू, स्लोवाक गणराज्य में, हंगरी में हरदीप सिंह पुरी और पोलैंड में वीके सिंह इस प्रोसेस की निगरानी करेंगे.

यह भी पढ़ें: भारत ने यूक्रेन में फंसे नागरिकों के लिए जारी की एडवाइजरी, कहा- एग्रेशन न दिखाएं, स्टेशन तक पहुंचने के लिए रास्ता बनाएं

वहीं अरिंदम बागची ने आगे कहा कि यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों को निकालने मामले में अब भी जमीन हालात बेहद चिंताजनक है. लेकिन इस प्रक्रिया में तेजी लाई जा रही है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता के अनुसार, सरकार द्वारा पहली बार एडवाइजरी जारी किए जाने के बाद से अब तक करीब 8,000 भारतीय नागरिक युद्ध प्रभावित यूक्रेन छोड़ चुके हैं. वहीं ऑपरेशन गंगा के तहत 6 फ्लाइट्स के जरिए यूक्रेन से अपने नागरिकों को निकालने के लिए जारी भारतीय मिशन के जरिए 1,396 नागरिकों को वापस लाया जा चुका है.

वहीं भारत यूक्रेन के अनुरोध पर कीव को मानवीय सहायता और मेडिकल सामग्री भेज रहा है. इसके लिए यूरोप में स्थित भारतीय दूतावासों की टीम को यूक्रेन की सीमा से लगे देशों में भेजा जा रहा है.

माना जा रहा है कि यूक्रेन को मानवीय राहत देने का फैसला कल शाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिया गया. इस बैठक के बाद केंद्र ने चार मंत्रियों को भारतीय नागरिकों की सुरक्षित स्वदेशी वापसी के लिए यूक्रेन भेजने का फैसला किया है.

Tags: MEA, Russia, Ukraine

Leave a Comment

Your email address will not be published.