Mithali raj says her career has come full circle looking to finish journey with wc trophy

रंगियोरा (न्यूजीलैंड). मिताली राज (Mithali Raj) 22 साल पहले पहली बार वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में जगह बनाने में सफल रही थीं. अब टीम की अगुवाई करने के लिए तैयार मिताली ने कहा कि उन्होंने अपने लंबे करियर में लगभग सब कुछ हासिल किया है, लेकिन इस प्रतिष्ठित ट्रॉफी को प्राप्त करने का उनका सपना अब भी अधूरा है. इस तरह से उन्होंने संन्यास के भी संकेत दे दिए हैं. 39 साल की मिताली न्यूजीलैंड में ही 2000 में खेले गए वर्ल्ड कप में भारतीय टीम का हिस्सा थी. इसके 2 दशक से भी अधिक समय बाद वह इसी देश में (Women’s World Cup 2022) अपनी टीम की कप्तानी कर रही हैं. इस बीच 2017 में ऐसा समय भी आया, जब उनकी टीम फाइनल में इंग्लैंड से हार गई थी. इसके अलावा वह 2005 में दूसरे स्थान पर रही टीम का भी हिस्सा थी.

मिताली राज ने इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) द्वारा पोस्ट किए गए वीडियो में कहा, ‘मैंने वर्ल्ड कप 2000 से लेकर लंबी राह तय की है. वह वर्ल्ड कप भी न्यूजीलैंड में ही खेला गया था. टाइफॉयड होने के कारण मैं उस वर्ल्ड कप के मैचों में नहीं खेल पाई थी. अब मैं फिर से यहां हूं. यह लंबी यात्रा रही है और मैं इसका सुखद अंत करना चाहती हूं.’ उन्होंने कहा, ‘मैं चाहती हूं कि हमारे सभी खिलाड़ी वर्ल्ड कप में अच्छा प्रदर्शन करें. इससे भारत को यह प्रतिष्ठित कप हासिल करने में मदद मिलेगी.’

लगातार 250 से अधिक का स्कोर बना रहे

भारत पिछली वनडे सीरीज में न्यूजीलैंड से 1-4 से हार गया था, लेकिन मिताली ने कहा कि उनकी टीम 4 मार्च से 3 अप्रैल तक होने वाले वर्ल्ड कप में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए तैयार है. उन्होंने कहा, ‘वर्ल्ड कप से पहले हम जिन क्षेत्रों में सुधार करना चाहते थे, उन पर हमने पिछली सीरीज और उससे पहले के मैचों पर ध्यान दिया. टीम अब लगातार 250 से अधिक का स्कोर बना रही है और वर्ल्ड कप में भी हम इसे बरकरार रखने की कोशिश करेंगे.’

यह भी पढ़ें: IND vs SL: जसप्रीत बुमराह ने कहा- विराट कोहली को 100वें टेस्ट में देगें यह खास तोहफा

टूर्नामेंट में कुल 8 टीमें उतर रही हैं. भारत को पहला मुकाबला पाकिस्तान से (India vs Pakistan) खेलना है. यह टूर्नामेंट का 12वां सीजन है. ऑस्ट्रेलिया (Australia) ने सबसे अधिक 6 बार खिताब जीता है. इसके अलावा इंग्लैंड ने 4 बार जबकि न्यूजीलैंड की टीम एक बार खिताब जीतने में सफल रही है. इंग्लैंड की टीम टूर्नामेंट की डिफेंडिंग चैंपियन भी है. मालूम हो कि मिताली पहले ही टी20 से संन्यास ले चुकी हैं.

Tags: BCCI, ICC, Indian Womens Cricket, Mithali raj, Womens World Cup 2022

Leave a Comment

Your email address will not be published.