Gmail Users Get This WhatsApp Like Feature Check Here Details

Google, गूगल चैट में Spaces के लिए नए फीचर्स लेकर आ रहा है. इनमें स्पेस मैनेजर्स सेट करना, स्पेस गाइडलाइंस और स्पेस डिस्क्रिप्शन जैसे फीचर्स शामिल हैं. एक ब्लॉग पोस्ट के माध्यम से घोषणा करते हुए, Google ने कहा कि इन सुविधाओं का उद्देश्य यूजर्स को लोगों, विषयों और परियोजनाओं को बेहतर ढंग से व्यवस्थित करने में मदद करना है.

स्पेस मैनेजर का रोल कुछ यूजर्स को स्पेस में मैनेज पर ज्यादा कंट्रोल प्रदान करेगा. वे स्पेस में डिटेल्स जोड़ने में भी सक्षम होंगे और उन गाइडलाइन्स को भी डिफाइन करेंगे जो सदस्यों के लिए एक सुरक्षित सामुदायिक अनुभव बनाने के लिए नियम और अपेक्षाएं स्थापित करते हैं.

Google ने ब्लॉग पोस्ट में कहा, “मैनेजर की भूमिका बातचीत को बढ़ावा देने और किसी ऑर्गेनाइजेशन के भीतर स्पेस की उपलब्धता को कंट्रोल करने के लिए डिवाइस प्रदान करती है.” स्पेस क्रिएटर्स डिफ़ॉल्ट रूप से स्पेस मैनेजर होंगे. लेकिन अगर वे चाहें तो स्पेस के अन्य सदस्यों को यह जिम्मेदारी दे सकते हैं.

Google अब यूजर्स को स्पेस के लिए डिटेल्स जोड़ने की इजाजत देगा. इस एरिया का इस्तेमाल स्पेस के उद्देश्य की डिटेल्स के लिए किया जा सकता है. 

यूजर्स स्पेस बनाते समय या मौजूदा स्पेस के लिए “स्पेस डिटेल्स देखें” का सिलेक्ट करके स्पेस डिटेल्स जोड़ सकते हैं. डिटेल्स जोड़ने की क्षमता वेब और मोबाइल दोनों पर उपलब्ध होगी. स्पेस डिटेल्स देखने के लिए, यूजर्स “View space details” सिलेक्ट कर सकते हैं या इसे तब भी देखा जा सकता है जब कोई यूजर “Browse Spaces” व्यू में होता है.

इन नई फीचर्स को 28 फरवरी से यूजर्स के लिए रोल आउट करना शुरू कर दिया गया है. स्पेस मैनेजर की भूमिका 14 मार्च, 2022 तक व्यापक रोलआउट होने की उम्मीद है. जबकि स्पेस डिटेल्स और स्पेस गाइडलाइन के इस महीने के आखिर में रोलआउट होने की उम्मीद है.

यह भी पढ़ें: गूगल सर्च में पढ़ने में रहे आसानी इसके लिए इनेबल करें डार्क थीम, ये है पूरा प्रोसेस

यह भी पढ़ें: 4 कैमरे और 11GB तक की रैम के साथ लॉन्च हुआ ये स्मार्टफोन, जानिए कितनी है कीमत और क्या मिल रहे ऑफर

Leave a Comment

Your email address will not be published.