आज महाशिवरात्रि के उपलक्ष्य में बंद रहेंगे भारतीय शेयर बाजार, BSE, NSE पर नहीं होगा कारोबार

महाशिवरात्रि 2022 के अवसर पर 1 मार्च को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया (National Stock Exchange of India(NSE) और BSE बंद रहेंगे। मेटल और बुलियन समेत थोक जिंस बाजार भी बंद रहेंगे। फॉरेक्स और कमोडिटी फ्यूचर्स मार्केट में भी कोई ट्रेडिंग नहीं होगी। वहीं पिछले कारोबारी दिन यानी कि 28 फरवरी को सेंसेक्स 366.64 अंक या 0.64 प्रतिशत ऊपर 57,858.15 पर और निफ्टी 128.90 अंक या 0.75 प्रतिशत ऊपर 17,278 पर बंद हुआ था।

इसमें Maruti Suzuki, Axis Bank, State Bank of India, IndusInd Bank और UPL निफ्टी के टॉप गेनर रहे, जबकि टॉप लूजर्स में Wipro, Bajaj Finserv, Titan Company, Infosys और Tech Mahindra शामिल रहे।

बीएसई पर मेटल इंडेक्स में 5.4 प्रतिशत, ऑयल एंड गैस इंडेक्स में 2.4 प्रतिशत और पावर इंडेक्स में 1.5 प्रतिशत की तेजी रही। आईटी इंडेक्स में एक प्रतिशत की तेजी आई, लेकिन ऑटो और बैंकेक्स में 0.5 प्रतिशत की गिरावट आई।

ब्रॉडर इंडेस्केस ने बेंचमार्क के अनुरूप प्रदर्शन किया। बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में प्रत्येक में 0.8 प्रतिशत की वृद्धि देखने को मिली।

HPCL के रिटेल आउटलेट्स पर बैटरी स्वैपिंग स्टेशन लगायेगा Honda

Religare Broking के अजीत मिश्रा ने कहा “बाजारों में राहत के साथ आधे प्रतिशत से अधिक की वृद्धि हुई। अमेरिकी बाजारों में अच्छी रिकवरी और अपबीट अर्निंग की वजह से बाजारों में उत्साह नजर आया। शुरुआत में, बेंचमार्क अस्थिर रहा, लेकिन जैसे-जैसे दिन आगे बढ़ा बैंकिंग, ऑटो और टेलीकॉम स्पेस से चुनिंदा इंडेक्स मेजर्स में बढ़िया खरीदारी के चलते इंडेक्स को धीरे-धीरे ऊपर की ओर बढ़ते गये।”

मिश्रा ने आगे कहा, “बाजार पर गुरुवार को शुरुआती कारोबार में अमेरिकी फेडरल रिजर्व की बैठक के नतीजे का असर देखने को मिलेगा और हमें उम्मीद है कि मंथली एक्सपायरी की वजह से बाजार में वोलाटिलिटी अधिक रहेगी। इस स्थित को ध्यान में रखते हुए हम सतर्कता के साथ ट्रेड और हेज्ड पोजीशन अपनाने का सुझाव देते हैं।”

भारतीय रुपया मंगलवार को 21 पैसे की गिरावट के साथ 74.77 प्रति डॉलर पर बंद हुआ, जो सोमवार को 74.56 के स्तर पर बंद हुआ था।

Kotak Securities के अनिंद्य बनर्जी ने कहा, “आरबीआई (भारतीय रिजर्व बैंक) के हस्तक्षेप और इक्विटी बाजारों में रैली ने USDINR Spot में एक तेज वापसी की शुरुआत की। वहीं रूस-यूक्रेन संघर्ष के कारण इस सप्ताह में वोलाटिलिटी अधिक होगी।”

Leave a Comment

Your email address will not be published.